13 April, 2012

इस बैसाखी में.....


30 comments:

  1. बैसाखी कि आपको भी शुभकामनायें ...!!

    ReplyDelete
  2. शुभकामनायें! बधाई!!
    ... चली तो आई!!!

    ReplyDelete
  3. बैशाखी की शुभ कामनाएं !

    ReplyDelete
  4. बैसाखी की शुभकामनाएँ.
    खुशियों का गुणनफल बढ़ता रहे...

    ReplyDelete
  5. वैशाखी की शुभकामनायें |
    बढ़िया प्रस्तुति |

    ReplyDelete
  6. वाह ... बहुत खूब ...सुन्दर प्रस्तुति.
    बैसाखी के पर्व पर हार्दिक शुभकामनाएं.

    !!आपका स्वागत है!! !!यहाँ पर भी आयें!!

    Active Life Blog

    ReplyDelete
  7. बैशाखी की शुभकामनाएं ..

    ReplyDelete
  8. बैशाखी की शुभकामनाएं !

    ReplyDelete
  9. बैसाखी की हार्दिक शुभकामनाएँ आपको भी...सुंदर पंक्तियाँ ॥

    ReplyDelete
  10. आपको भी बैसाखी की हार्दिक शुभकामनाएं।

    ReplyDelete
  11. बैसाखी खुशियों का त्यौहार है...आपकी खुशियाँ ऐसे ही दिन दुनी रात चौगुनी बढें...शुभकामनाएं...

    ReplyDelete
  12. शरद जी वैशाखी की बधाई और शुभकामनायें |

    ReplyDelete
  13. शरद जी इतनी सुंदर व मधुर वैशाखी की शुभकामना व स्वागत । आपको हार्दिक शुभकामनायें ।

    ReplyDelete
  14. आपको भी वैशाखी पर्व की शुभकामनाएँ...

    ReplyDelete
  15. आपकी सभी प्रस्तुतियां संग्रहणीय हैं। .बेहतरीन पोस्ट .
    मेरा मनोबल बढ़ाने के लिए के लिए
    अपना कीमती समय निकाल कर मेरी नई पोस्ट मेरा नसीब जरुर आये
    दिनेश पारीक
    http://dineshpareek19.blogspot.in/2012/04/blog-post.html

    ReplyDelete
  16. seedha sade shabdon men seddhi baat...uttam bhavpurna panktiyan..bahut bahut badhai

    ReplyDelete
  17. आपको भी वैशाखी पर्व की शुभकामनाएँ
    अति सुन्दर , कृपया इसका अवलोकन करें vijay9: आधे अधूरे सच के साथ .....

    ReplyDelete
  18. आपको भी शुभकामनाएं ।

    ReplyDelete
  19. बहुत बढ़िया चित्र मय प्रस्तुति,

    आपको भी वैशाखी पर्व की शुभकामनाएँ...

    आपका फालोवर बन गया हूँ,आप भी बने मुझे हार्दिक खुशी होगी....
    शरद जी..आभार

    MY RECENT POST काव्यान्जलि ...: कवि,...

    ReplyDelete
  20. माफ़ी चाहूंगी आप के ब्लॉग मे आप की रचनाओ के लिए नहीं अपने लिए सहयोग के लिए आई हूँ | मैं जागरण जगंशन मे लिखती हूँ | वहाँ से किसी ने मेरी रचना चुरा के अपने ब्लॉग मे पोस्ट किया है और वहाँ आप का कमेन्ट भी पढ़ा |मैंने उन महाशय के ब्लॉग मे कमेन्ट तो किया है मगर वो जब चोरी कर सकते है तो कमेन्ट को भी डिलीट कर सकते है |मेरा मकसद सिर्फ उस चोर के चेहरे से नकाब उठाने का है | आप से सहयोग की उम्मीद है | लिंक दे रही हूँ अपना भी और उन चोर महाशय का भी
    http://div81.jagranjunction.com/author/div81/page/4/


    http://kuchtumkahokuchmekahu.blogspot.in/2011/03/blog-post_557.html

    ReplyDelete
  21. meri dost ki taraf se ek msg :
    माफ़ी चाहूंगी आप के ब्लॉग मे आप की रचनाओ के लिए नहीं अपने लिए सहयोग के लिए आई हूँ | मैं जागरण जगंशन मे लिखती हूँ | वहाँ से किसी ने मेरी रचना चुरा के अपने ब्लॉग मे पोस्ट किया है और वहाँ आप का कमेन्ट भी पढ़ा |मैंने उन महाशय के ब्लॉग मे कमेन्ट तो किया है मगर वो जब चोरी कर सकते है तो कमेन्ट को भी डिलीट कर सकते है |मेरा मकसद सिर्फ उस चोर के चेहरे से नकाब उठाने का है | आप से सहयोग की उम्मीद है | लिंक दे रही हूँ अपना भी और उन चोर महाशय का भी
    http://div81.jagranjunction.com/author/div81/page/4/


    http://kuchtumkahokuchmekahu.blogspot.in/2011/03/blog-post_557.html

    प्रत्‍युत्तर दें

    ReplyDelete
  22. bahut sunder likha hai aapko bhi baesakhi ki shubhkamnayen

    rachana

    ReplyDelete
  23. वैशाखी पर्व की शुभकामनाएँ,

    ReplyDelete
  24. बैसाखी की बहुत बहुत बधाई ...

    ReplyDelete
  25. Bahut hi Sundar prastuti. Mere post par aapka intazar rahega. Dhanyavad.

    ReplyDelete