शुक्रवार, अप्रैल 13, 2018

A Big Confusion in Saree Shoping ... Dr Sharad Singh

A Big Confusion ...
कौन-सी लूं ?
कौन सी न लूं ?
उफ् ! कोई तो मुझे सलाह दे !!! 😇😇😇

Saree Shoping ... Dr Sharad Singh
Saree Shoping ... Dr Sharad Singh
Saree Shoping ... Dr Sharad Singh
Saree Shoping ... Dr Sharad Singh
Saree Shoping ... Dr Sharad Singh



1 टिप्पणी:

  1. अरुण परिधान धर आओ , शरद ! तुम पूर्णिंंमा भाओ !
    सुनो इक बार मेरी ऋतु ! छटा संक्षिति की बन जाओ !
    तुम्हें भाई है पर धानी , मुझे अभिग्यात है ऋतुश्री ;
    तेरी धानी , मेरी अरुणाभ साड़ी धर शरद आओ !!

    उत्तर देंहटाएं