बुधवार, मार्च 15, 2017

इस बार होली पर यादें ... सिर्फ़ यादें ....

Dr Varsha Singh & Dr Sharad Singh with uncle Late Kamal Singh Chauhan in their childhood
इस वर्ष मेरी होली बेरंग थी क्योंकि मेरे प्यारे कमल सिंह मामा जी मेरे साथ नहीं थे ...
इस तस्वीर में - मैं अपने कमल सिंह मामा जी की गोद में हूं और साथ खड़ी हैं मेरी दीदी डॉ वर्षा सिंह।

March, 2017
 

This year my HOLI was colorless because my loving Uncle had not with me...
In this pic - I am in my uncle's lap & my Didi Dr Varsha Singh stands beside.


I miss U Kamal Mama !!! 

May your soul rest in peace !!!

1 टिप्पणी:

  1. आदरणीया शरद जी ..आपकी इस पोस्ट से मैं आपकी पीड़ा को समझ सकता हूँ/ इश्वर आपको दुःख को सहन करने की शक्ति दे ..विनम्र श्रधांजलि के साथ सादर

    उत्तर देंहटाएं