गुरुवार, अप्रैल 03, 2014

बच्चे क्यूं भूल जाते हैं ....

A poem of Dr Sharad Singh


Children forget why ...
Children forget why

The mother
Watered by the blood
Nurtured by the milk
And studied by sweat

Why do not remember them
The mother is still in village
awaits him
At the door of the house
Where he has played ever
Colorful Kanche and Gilli - Danda
...
- Dr Sharad Singh

4 टिप्‍पणियां:

  1. आपकी यह उत्कृष्ट प्रस्तुति कल शुक्रवार (04.04.2014) को "मिथकों में प्रकृति और पृथ्वी" (चर्चा अंक-1572)" पर लिंक की गयी है, कृपया पधारें और अपने विचारों से अवगत करायें, वहाँ पर आपका स्वागत है, धन्यबाद।

    उत्तर देंहटाएं
  2. राजेंद्र कुमार जी बहुत बहुत धन्यवाद चर्चा मंच में शामिल करने के लिए |

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत भावपूर्ण और मर्मस्पर्शी रचना...

    उत्तर देंहटाएं
  4. सबकी आँखें खुलें, सबको एक दिन इसी पथ जाना है।

    उत्तर देंहटाएं