मंगलवार, अप्रैल 16, 2013

इश्क़ में अच्छा शगुन है ....


12 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत कठिन है डगर पनघट की ...
    इश्क आसां नहीं ... बहुत खूब ...

    उत्तर देंहटाएं
  2. निगाहों को चुराना इश्क़ में अच्छा शगुन है ....
    बहुत बहुत सुन्दर ....
    <3

    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  3. आपने लिखा....हमने पढ़ा
    और भी पढ़ें
    इसलिए कल 18/04/2013 को आपकी पोस्ट का लिंक होगा http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर
    आप भी देख लीजिएगा एक नज़र ....
    धन्यवाद!

    उत्तर देंहटाएं
  4. इश्क-विश्क , प्यार-व्यार हर कोई कर ले कोई आशां थोड़ी है
    हमारी तरह हर किसी की हथेली पर जां थोड़ी है
    बहुत गजब ....वाह।

    ब्लॉग पर मेरी मेरी पहली पोस्ट : : माँ

    (नया नया ब्लॉगर हूँ तो ...आपकी सहायता की महती आवश्यकता है .. अच्छा लगे तो मेरे ब्लॉग से भी जुड़ें।)

    उत्तर देंहटाएं
  5. बहुत सुन्दर....बेहतरीन प्रस्तुति !!
    पधारें बेटियाँ ...

    उत्तर देंहटाएं